हमारी बॉडी के मूवमेंट्स और फंक्शनिंग के दौरान कई तरह की आवाजें आती हैं। यहां तक कि सोते समय भी हमारी बॉडी से कुछ अजीब साउंड निकलते रहते हैं। इनमें ज्वाइंट्स का चटकना, सांस लेते समय घरघराहट, नाक से सीटी की आवाज निकलना, खर्राटे, पेट की गुड़गुड़ाहट जैसी कई आवाजें होती हैं। क्या संकेत देते हैं हमारी बॉडी के साउंड?

अमृतसर के अमनदीप ग्रुप ऑफ हॉस्पिटल के चीफ कंसल्टेंट डॉ. अवतार सिंहका कहना है कि ये साउंड्स किसी सीरियस हेल्थ प्रॉब्लम का संकेत भी हो सकते हैं । आमतौर पर लोग बॉडी के इन साउंड्स को इग्नोर कर देते हैं लेकिन उन पर ध्यान न देने से प्रॉब्लम बढ़ सकती है। आइए जानते हैं आखिर बॉडी की ये आवाजें किस तरह की हेल्थ प्रॉब्लम का संकेत हो सकती हैं….
क्या हैं हमारी बॉडी के साउंड?
  1. ज्वाइंट्स का चटकना
  2. पेट की गुड़गुड़ाहट
  3. जबड़ों की आवाज
  4. नाक से सीटी की आवाज
  5. कान में सनसनाहट
  6. छाती में घरघराहट
सोते वक्त खर्राटे लेना :
हर घर में कोई न कोई ऐसा होता है जिन्हें खर्राटे लेने की आदत होती है। अक्सर खर्राटों की आदत को इग्नोर किया जाता है जबकि यह एक बीमारी का संकेत है। मोटापे के कारण गले की मेम्ब्रेन में रुकावट आ जाती है जिससे खर्राटे आते हैं। खर्राटों के कारण स्लीप एप्निया, डायबिटीज और स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है।
जोड़ों की आवाज :
हाथ या पैरों के ज्वाइंट्स में लिक्विड की कमी से ऐसा हो सकता है। यदि आपको भी ऐसा महसूस हो तो इग्नोर न करें। लंबे समय तक ऐसा होने पर डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। क्योंकि इससे गठिया या आर्थराटिस जैसी बीमारी होने के चांस बढ़ जाते हैं।
पेट की गुड़गुड़ाहट : अक्सर हमारे पेट से आवाज या फिर गुड़गुड़ाहट महसूस होती है। इसका मतलब यह है कि खाली पेट या ओवर इटिंग जैसी वजहों से डाइजेशन की प्रॉब्लम हो जाती है। अगर आपके पेट में सूजन या दर्द हो तो लिवर से जुड़ी प्रॉब्लम हो सकती है।
जबड़े की आवाज : खाने में खट्टा-मीठा, गर्म या ठंडे के कारण दांतों से आवाज आना आम प्रॉब्लम है। लेकिन जबड़ों में आवाज आने का मतलब ऊपर और नीचे के जबड़ों का अलाइनमेंट बिगड़ने के कारण भी हो सकता है। जिससे जॉ लॉक या जबड़े लॉक होने की प्रॉब्लम हो सकती है। ऐसे में एक्सपर्ट को जरूर दिखाएं।
नाक से सीटी की आवाज : सर्दी, जुकाम या साइनस के कारण नाक से सीटी की आवाजें आती हैं, क्योंकि कार्टिलेज में रुकावट के कारण भी ऐसा हो सकता है।
कान में सनसनाहट :
कभी-कभी कान में पानी या फिर कोई कीड़ा घुस जाने के कारण आवाज आ सकती है। इसको अवाइड नहीं करना चाहिए। फंगल इन्फेंक्शन के कारण भी कान में आवाजें आ सकती हैं। इसके अलावा आजकल मोबाइल के ज्यादा यूज से जुड़ी टिनिटस नामक बीमारी के कारण भी कान में आवाजें आ सकती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *